Welcome to The Divine Solutions, we have over 25 years of expertise in industry.

BlogDetail

चुनौतियों से भरा समय है अखिलेश यादव के लिए 2017

  • 16 Feb

    चुनौतियों से भरा समय है अखिलेश यादव के लिए 2017

     

    उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री अखिलेश यादव समस्याओं से घिरे 20 करोड़ की आबादी वाले प्रदेश

    को पटरी पर लाने के प्रयास में जी-जान से जुटे हैं. गरीबी, अशिक्षा, अपराध, महिलाओं की असुरक्षा,

    किसानों की बदहाली और सांप्रदायिक माहौल से जूझते हुए अपने ढंग से प्रयासरत हैं. युवा है,

    इसलिए जनता को उम्मीदें बहुत हैं. इनका जन्म 1 जुलाई 1973 दिन रविवार को 12 बजे

    सैफई में हुआ है. मार्च 2012 के विधान सभा चुनाव में 224 सीटें जीतकर मात्र 38 वर्ष की आयु में ही वे

    उत्तर प्रदेश के 33वें मुख्यमन्त्री बन गये.

    यह वर्ष काफी उथल-पुथल भरा रहेगा. कई समस्याएं आएँगी जब इन्हें मुश्किलों का सामना

    करना पड़ेगा. कर्मस्थान में सूर्य-शनि दोनों की उपस्थिति से पिता की सलाह और मार्गदर्शन तो

    इन्हें मिलता रहेगा, लेकिन ये चलेंगे अपनी बुद्धि से. गुरु-राहू की युति से गुरु चांडाल योग भी

    बन रहा है, जिसकारण ये अपने पिता और चाचा की सलाह पर ध्यान नहीं देंगे. दशमेश बुध

    अभी वक्री चल रहा है जिस कारण बिना सोचे-समझे फैसला करने से मुश्किलें बढेंगी. अभी गुरु-

    राहू की युति हुई है सिंह राशि में और गोचर शनि की उसपर दसवीं दृष्टि भी है. राहू 18 साल

    के बाद सिंह राशि में शनि से दृष्ट होगा. प्रयास करने पर भी ज्यादा सफलता और जन समर्थन

    नहीं मिल पायेगा. कानूनी पचड़े भी इन्हें परेशान करेंगे और अच्छी नीयत रहते हुए भी काम में

    तेजी नहीं आ पायेगी. तरह-तरह की अफवाहों से इनके खिलाफ माहौल बन सकता है. इनके

    कामों में गतिशीलता तो फिर भी बनी रहेगी. इन्हें अधीनस्थ अधिकारीयों का भरपूर समर्थन

    मिलेगा. लेकिन इनके अपने ही जाने-अनजाने में इनका नुक्सान करेंगे. इन्हें पारिवारिक विवादों

    का भी सामना करना पड जायेगा. इससे इनकी छवि बिगड़ने का भी खतरा बना रहेगा. इनके

    पिता की सेहत ख़राब हो सकती है, इसलिए भी पारिवारिक मामले ज्यादा उलझेंगे. इन्हें

    राजनीतिक रूप से किसी महिला जातक से सहायता मिलेगी. जीवन-साथी से कई मुद्दों पर

    मतभेद रह सकता है, लेकिन जीवन साथी की अच्छी सलाह ये लेते रहेंगे. इनकी बुद्धि और

    इनके विचार अच्छे हैं और ये प्रभावशाली वक्ता भी हैं. नापतौल कर बोलते हैं. लेकिन केवल

    आश्वासन से जनता नहीं मानेगी, क्योंकि शनि प्रभावशाली है. हालाँकि अभी राजनीतिक सत्ता के

    केंद्र में बने रहेंगे, प्रभाव भी श्रेष्ठ रहेगा, लेकिन पिछले कुछ कार्यों की वजह से वर्तमान में

    समस्याएं खड़ी हो सकती हैं, जिन्हें सुलझाना आसन नहीं होगा. योजनायें भ्रष्टाचार और अक्षमता

    की वजह से नाकामयाब हो सकती हैं. आर्थिक मामलों से जुड़े अपराधों में इनके फंसने की

    सम्भावना बन सकती है, भले ही ये इसके जिम्मेदार ना हों. इन्होने 15 मार्च 2012 को 11:34 बजे

    मुख्यमंत्री की शपथ ली थी और उस समय मिथुन लग्न बन रहा था. इस कारण इन्हें केंद्र से

    सहायता मिलगी और इनके सम्बन्ध केंद्र से मधुर बने रहेंगे. इनकी कार्यशैली पर इनके पिता

    स्वयं सवाल खड़े कर चुके हैं और सार्वजनिक रूप से अप्रसन्नता जाहिर कर चुके हैं, इस वर्ष

    बहुत अधिक सुधार होता हुआ दीख नहीं रहा है. साल के दूसरी छमाही अपेक्षाकृत अच्छी रहेगी,

    जहाँ इनके लिए समस्याएं थोड़ी कम होंगी और कुछ का समाधान भी निकल सकता है.

    Share with:

Recent Comments

No Comments Found..!

Leave a comment


Blog Search

Recent Posts